कृत्रिम बुद्धिमता या artificial intelligence क्या है और यह कैसे काम करता है ?

कृत्रिम बुद्धिमता या artificial intelligence क्या है और यह कैसे काम करता है ?

कृत्रिम बुद्धिमता या artificial intelligence क्या है और यह कैसे काम करता है ? If you have also read this post well, then you should subscribe to this website so that you get all the latest updates first.

दोस्तों नमस्कार , shortfilmvideostatus.com में आपका स्वागत है .आज हम artificial intelligence in Hindi के विषय में जानेंगे  । इंसान आज अगर  technology के क्षेत्र में इतना विकास कर पाया  है, तो उसमें मानव मस्तिष्क का सबसे बड़ा योगदान  है। अपनी इस बुद्धि के बल पर इंसानों ने कई  आविष्कार करते रहे  है, और यह याद दिलाने  वाली बात नही कि हर आविष्कार ने मनुष्यों की जिंदगी को एक नई ऊचाई  दी है। जब Computer बने थे तो किसी से सोचा तक नही था ,कि हम भविष्य में smartphone जैसी कोई चीज होती है ,परन्तु आज सपना साकार हुआ और स्मार्ट फ़ोन आपके हाथ में ।

आज यह हमारी जिंदगी का हिस्सा तो है ही साथ साथ  हमारे किसी भी काम को करने में मदद करता है।पिछले कुछ सालों में technology को next level  में ले जाने के लिये Computer science के वैज्ञानिको ने AI Concept को दुनिया के सामने प्रस्तुत किया  ।

इसका मूल उद्देश्य ऐसे computer controlled robot या Software बनाने का   था । जो इंसानों की तरह सोच कर किसी भी समस्या का हल निकाल सके , जिसमे हम काफी हद तक सफल हुए है ।लेकिन  कुछ scientists का मानना है कि technology में इस तरह के elopment machines को super intelligence बना सकता है ।

artificial intelligence in Hindi

artificial intelligence in hindi

 

जो आगे चलकर मानव अस्तित्व के लिए ना सिर्फ  खतरा  पैदा कर सकता है बल्कि इसे मिटा भी सकता है ।Artificial Intelligence और  Machine Learning मनुष्यों  के लिए कितनी उपयोगी  होगी यह तो आने वाला भविष्य  ही बताएगा। अभी तो हम सिर्फ इसके बारे में अनुमान ही लगा सकते है वैसे इस फील्ड में जिस तरह से devolopment हो रहा है  । ये आने वाले वक्त में मानव जीवन को पूरी तरह से बदल कर रख देगा ।

Artificial intelligence (AI) क्या है?

Artificial Intelligence (AI) या “कृत्रिम बुद्धिमत्ता” Computer science का वह शाखा  है, जो एक  ऐसी Intelligence machines को विकास करने का सोच रही है ।जो मानव  की तरह सोच सके ,कार्य कर सके , बात कर सके उसमे मानव की भांति fillings हो । इसके कुछ उदाहरण – speech recognition , problem solving, learning , filling ,self decesion और planning । यह मनुष्यों और जानवरों के द्वारा प्रदर्शित Natural intelligence के विपरीत Machines द्वारा प्रदर्शित intelligence है।

What is artificial intelligence in computer ?

AI के द्वारा एक ऐसे Computer controlled robot या Software बनाने की योजना है, जो वैसे ही सोच सके जैसे human mind सोचता है। Artificial Intelligence को इसमे परिपूर्ण बनाने के लिए उसे लगातार तैयार किया जा रहा है। इसके प्रशिक्षण में इसे मशीनों से अनुभव सिखाया जाता है। नए input के साथ तालमेल बनाने और मानव जैसे कार्यो को करने के लिए तैयार किया जाता है। कुल मिलाकर Artificial Intelligence एक self decision  concept है।  जिसके उपयोग से एक  ऐसी machines बनाई जा रही है । जो हमारे  environment  के साथ interact करके received data पर खुद बुद्धि-मानी से कार्य कर सके  ।

यानी अगर future में AI concept और मजबूत होता है, तो यह कोई कहने वाली बात नही होगी  की यह हमारे दोस्त जैसा होगा। वस्तुतः Artificial Intelligence (AI) एक smart machine या computer program की सोचने , समझने और सीखने की क्षमता है।यह अवधारणा इस विचार पर आधारित है, कि मशीनों को इतना सक्षम  बनाया जाए की वह खुद किसी समस्या को  इंसानों की तरह thinking, acting और learning कर सके।

Artififial Inteligence

artificial intelligence in hindi

Artificial Techniques क्या है(artificial intelligence meaning in hindi) ?

AI technique एक ऐसा  तरीका है, जो derived knowledge का उपयोग करता है। ताकि इसके errors को correct करने के लिये संसोधित किया जा सके।AI technique एक statistical और mathematical model के उन्नत रुपों से बने model  है। ये मॉडल computer या machine के लिए उन कार्यो की गणना करना आसानी से सम्भव बनाते है जो मनुष्यों द्वारा in गणनाओ को किये जाते है इसके कुछ उदाहरण है ।

  • Artificial Natural Network
  • Heuristics
  • Markov Decision Process
  • Natural language processing.

artificial intelligence examples  in hindi .

आज कल  AI एक बहुत ही लोकप्रिय विषय होता जा रहा  है, जिसकी तकनीकी और business के क्षेत्रो में काफी चर्चा है। कई विशेषज्ञों और industry analysts का मानना है, की AI या machine learning हमारा आने वाला भविष्य है।लेकिन अगर हम अपने चारों तरफ देखे तो हम पाएंगे की यह हमारा भविष्य नही बल्कि वर्तमान होता जा रहा है। technology के विकास के साथ साथ आज हम किसी न किसी तरीके से Artificial Intelligence से जुड़े हुये है और इसका फायदा भी उठा  रहे है। हां, यह बात ज़रूर है कि AI technology अपने first stage  में है। और अभी इसका बहुत विकास अभी बाकि है ।

अभी हाल में कुछ  companies ने इस प्रोजेक्ट  पर काफी निवेश किया है। जिसके कारण कई AI product और Apps हमारे लिए उपलब्ध हो पाए  है।तो चलिये अब हम आपको आज इस्तेमाल होने वाले कुछ ऐसे AI उदाहरण  देते है । जिससे आप और अच्छी तरह से समझ पाएंगे कि Artificial Intelligence क्या है और इसका future में क्या स्कोप है ।

1-siri

Siri के बारे में शायद आपने जरूर सुना होगा यह Apple द्वारा बनाया  गया सबसे popular  personal assistant है। हालांकि यह अलग बात है की यह सिर्फ iPhone और iPad के लिए ही उपलब्ध है।यह AI का सबसे बेहतरीन और ताज़ातरीन उदाहरण है, इससे बस आप Hey Siri बोलिये और यह आपके लिए massage send कर देती  है, internet से कोई भी information ढूंढ सकती  है, voice call कर सकती है, कोई भी application खोल  सकता है यहां तक कि timer set व calendar में event add करने जैसे कामो में आपकी मदद  कर सकती है। Siri आपकी भाषा और सवालों को समझने के लिए Machine Learning Techniques का प्रयोग करती है। यह सबसे अनुकूल voice activated computer program  है। इससे related डिवाइस Alexa और Google Assistant  है। जो समान काम लिए ही प्रयोग किये जा रहे  है।

2 -Tesla

जानीमानी company टेस्ला मोटर के ऑनर Elon musk भी इस क्षेत्र में कहँ  पीछे रहने वाले ये भी Automobiles में  Artificial Intelligence का उपयोग कर  रहे है।टेस्ला  अब तक उपलब्ध सबसे best Automobiles में से एक है। Tesla car में न केवल self driving बल्कि productive capabilities और पूर्ण technological innovation जैसे feature दिए गए  है। ऐसी ही न जाने कितनी self driving car और बन रही है जो आने वाले वक्त में और भी smart हो जाएगी। AI का इस्तेमाल करके अभी कुछ smart फ़ोन company भी इस क्षेत्र में अपना सिक्का अजमा रही है जैसे की सोनी , apple etc .

3 Google map

वैसे ये बात किसी से छुपी नही है की Google कई क्षेत्र में AI का इस्तेमाल करता है। Google map में AI technology का  इस्तेमाल पहले से बेहतर हुआ है।हमको किसी भी जगह का रास्ता बताने के लिए AI enabled mapping के साथ giant’s technology सड़क की  जानकारी को scan करती है और algorithms का प्रयोग करके हमें सही route बताती है। अभी Google ने अपनी voice assistant  implement करके और real time में augmented reality maps बनाकर अपने google map में Artificial intelligence को और आगे बढ़ाने का प्रयास किया  है।

4-Nest

Nest आज  सबसे प्रसिद्ध और Artificial intelligence startup कंपनी में से एक है और इसे 2014 में Google द्वारा खरीद लिया गया।Nest learning thermostat आपके व्यवहार और schedule के आधार पर energy को बचाता है। ऐसा करने के लिए यह behavioral algorithm का उपयोग करता है। यह इतनी intelligent machine है,जो  कि सिर्फ एक हफ्ते में ही आपके लिए उपयोगी temperature का पता लगाने में सक्षम  है। अगर घर मे कोई न हो तो यह ऊर्जा बचाने के लिए automatically turn off भी हो जाती है।

5.Echo

Echo को Amazon द्वारा लांच किया गया था। यह एक ऐसा revolutionary technology  है, जो आपके किसी भी सवालों के जवाब ढूढने में सक्षम  है, यह आपके लिए audio-book पढ़ सकता है । आपको traffic और weather report भी बता सकता है, local businesses के बारे में जानकारी उपलब्ध करा सकता है तथा sports score और schedule भी जानकारी प्रदान कर सकता है। Echo में और भी बड़े बदलाव किए जा रहे है जिससे यह नई सुविधाओं को जोड़ता जा रहा है।उम्मीद है, आने वाला वक्त Echo को और भी Smart बना देगा। amazon echo का सबसे खास feacher amazon एलेक्सा है Alexa के जरिये यूज़र amazon prime से किसी भी वीडियो को प्ले करने के लिए कह सकते है साथ ही एलेक्सा से अपने फेसबुक का फोटो भी देख सकते है ।

 history of artificial intelligence(essay on artificial intelligence in hindi ).

Artificial intelligence research की शुरुवात 1950 में शुरू  हुई थी। Electronic computer और Stored program computer के विकास के साथ साथ  AI के क्षेत्र में research का काम शुरू किया गया था । इसके बाद भी कई दशकों तक एक Computers किसी human mind की सोच की तरह  कार्य कर पाए इसकी कोई कड़ी नही जुड़ पायी। आगे चलकर Norbert Wiener  के प्रयास ने AI के खोज के शुरुआती विकास को काफी हद तक आगे बढाया । उन्होंने यह सबित  किया कि इंसानो के सभी intelligent behavior प्रतिक्रिया तन्त्र के परिणाम होते है। modern AI की दिशा में एक और कदम तब बड़ा जब Logic Theorist का निर्माण हुआ। 1955 में Newell और Simon द्वारा design किया गया यह first AI program माना जा सकता है।

Father of Artificial Intelligence  .

 AI के जनक John McCarthy ने कई शोध के बाद  Artificial intelligence की नींव रखी। यह एक American scientist  थे। AI के क्षेत्र में और विकास करने के लिए उन्होंने 1956 में एक सम्मेलन “The Dartmouth Summer Research Project on Artificial Intelligence” का आयोजन किया। जिसमे वो सभी लोग भाग ले सकते थे जो machine intelligence में रुचि रखते हो। इस सम्मेलन का मकसद रुचि रखने वाले लोगो की प्रतिभा और विशेषज्ञता को निखारना  था ताकी वह इस काम मे McCarthy की मदद कर सके।बाद के वर्षों में AI research centers का गठन Carnegie Mellon University के साथ-साथ Massachusetts Institute of Technology में हुआ। इसके साथ ही AI को कई चुनोतियों का सामना भी करना पड़ा।

पहली चुनौती जो उनके  सामने एक ऐसे system का develop  करना जो बहुत कम खोज करके किसी समस्या को कुशलता से हल करने में सक्षम हो । दूसरी चुनौती ऐसे systems का निर्माण जो खुद से किसी कार्य को सीख कर उसे impliment कर सके ।Artificial intelligence के क्षेत्र में पहली सफलता तब मिली जब 1957 में Newell और Simon द्वारा एक General problem solver नामक novel program बना कर बाजार में उतारा गया ।

यह Wiener के फीडबैक सिद्धांत का विस्तार था। इसके जरिये सामान्य ज्ञान की समस्याओं का अधिक से अधिक समाधान किया जा सकता था।AI इतिहास  में 1958 में John McCarthy द्वारा LISP language का निर्माण किया गया। इसे जल्द ही कई AI researchers द्वारा अपनाया गया  और यह आज भी उपयोग में लाया जा रहा है।

Goles of AI ?

  Artificial intelligence मनुष्यों द्वारा विकसित की गई एक उन्नत तकनीक   है, लेकिन इसमें कोई संदेह नही की AI मनुष्यों की तुलना में अधिक कुशल, बेहतर और कम खर्च में काम करती है। इसीलिए अब कई business में इसका उपयोग तेजी से होता जा रहा है जैसा कि हम जानते है, कि AI पूरी दुनिया में सबसे शक्तिशाली और fast growing technology है। अभी कुछ हद तक AI हमारी daily life में आ चुकी लेकिन वो दिन दूर नही जब हम पूरी तरह से इस technology से घिर चुके होंगे । तो यह सत्य है, कि पूरी दुनिया मे AI का बहुत bright future है।

भविष्य में ज्यादातर काम और कई क्षेत्र AI के ऊपर निर्भर होंगे। इसके साथ ही यह कयास भी लगाए जा रहे है, की यह मनुष्यों के जीवन पर बहुत बुरा प्रभाव भी डाल सकता है।तो चलिये अब आपको AI के कुछ लक्ष्यों को बताते है जिसे Achieve करके यह AI technology जल्द ही हम तक पहुच जाएगी और हम उसका उपयोग कर पाएंगे ।

निर्णय लेने की शक्ति बढ़ाना:

AI  का प्रथम लक्ष्य  है, कि मनुष्यो की तरह सोचने वाली thinking machine को बनाया जाये। जो मानव की किसी भी समस्या को खुद से decision लेकर हल कर सके। इस दिशा में AI ने कुछ उपलब्धियां भी हासिल की है।अभी हाल ही  में एक Female AI Robot (Sophia) को बनाया गया। इसके पास कुछ हद तक decision making power है । और यह आपके किसी भी सवाल का जवाब आसानी से दे सकती है। ऐसे ही कुछ AI Concept आपको smart device में भी देखने को मिलेंगे जैसे Google home, Siri, Alexa इत्यादि।

Mnimise error :

हम इंसान किसी कार्य को करने में काफी आलसी होते है, जिसके कारण हम अपने कामो को पूरा करने में बहुत ज्यादा समय लगाते है और हमसे ज्यादा ग़लतियाँ भी होती है। इंसानों की इसी आदत को देखते हुये AI researches इस दिशा में बहुत तेजी से काम कर रहे । इनका मूल मकसद AI को ऐसा बनाना है ताकि वो किसी भी कार्य में कम से कम गलती हो सके ।

Time Save : जाहिर सी बात है, AI मनुष्यों की तुलना में काफी अधिक तेजी से काम करने में सक्षम हो सकता  है। क्योंकि यह एक प्रकार की machine है , इसलिए यह काम करने में कभी नही थकता और हमारी तरह कभी break भी नही लेता । इस विषय को देखते हुवे कई ऐसी AI machines बनाने पर जोर दिया जा रहा है , जो जल्द ही मनुष्यों की जगह ले सकती है ।

 

 

Entertainment